+91-92666-60121         info@gharsenaukri.com Contact Us Home

How can housewives use the platform Shabd.in?

शादी के बाद और विशेष रूप से एक माँ बनने के बाद एक महिला का जीवन बदल जाता है। एक गृहिणी परिवार के प्रत्येक सदस्य में वांछित होने और प्यार करने की भावना उत्पन्न करती है।

एक गृहिणी के कारण परिवार के सदस्य बिना किसी परेशानी के अपने करियर में आगे बढ़ने / प्रगति करने के लिए पर्याप्त समय, ऊर्जा और उद्देश्य मिलता है।  बुजुर्गों के लिए वह एक वांछनीय आश्रय और आराम प्रदान करती है। वह वास्तव में, बचपन से बच्चे की प्रशिक्षक होती हैं। इन सभी कामो के लिए बहुत सारे धैर्य, सहिष्णुता और जिम्मेदारी की भावना की आवश्यकता होती है। घरों के प्रबंधन में गृहिणियों की भूमिका अमूल्य है। वह सब के लिए सब कुछ हैसौहार्दपूर्ण पत्नी, देखभाल करने वाली मां और बहू, खाना पकाना, क्लीनर, और प्रबंधक।

बहुत  सारे  लोगो  का  सोचना  होता  है  की  गृहिणी अनुत्पादक होती  है | सरकारी आंकड़े हमें बताते हैं कि अधिकांश  महिलाएं पुरुषों के  कारण  बेरोजगार हैं, तो यह  आंकड़े  इस  बात  को भी    साबित करते  है कि ज्यादातर महिलाएं घर पर लंबे समय तक महत्वपूर्ण काम करती हैं।

संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, वैश्विक स्तर पर महिलाओं द्वारा किए गए अवैतनिक काम का अनुमान सालाना 11 ट्रिलियन अमरीकी डॉलर है। गृहिणी प्रति दिन लगभग 10 घंटे काम करती हैं| (जो एक रूढ़िवादी अनुमान है, क्योंकि उनमें से अधिकतर दिन में 12 घंटे से अधिक समय तक काम करती हैं) | कुछ साल पहले भारत के सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए बयान के अनुसार, सर्वोच्च न्यायालय के मुताबिकगृहिणी एक अमूल्य अनपेक्षित संसाधन हैं और निश्चित रूप से अनुत्पादक नहीं हैं!”

गृहिणी घर के  सुचारु कार्य सुनिश्चित करने में मदद करती हैं (कल्पना करें कि क्या वह अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाती है, या बीमार पड़ती है), लेकिन वे जो काम करते हैं (चाहे खाना बनाना, सफाई करना या बच्चों को उठाना) आर्थिक गतिविधि के रूप में दर्ज नहीं किया जाता है। क्योंकि घर का काम बाजार प्रणाली का हिस्सा नहीं है| यह सभी अवैतनिक कामों के साथसाथ सामान और सेवाओं के लिए भी सच है, या जो बाजार तक नहीं पहुंचता है (जैसे फल और सब्जियां उगाई जाती हैं और जिनकी घर पर खपत होती हैं)

 

पहले के  समय  में जो गृहणी काम करना चाहती थी उन्हें अक्सर निन्दित किया जाता था लेकिन  अब वह समय नहीं है जब भारतीय गृहिणी सिर्फ घरेलू घर के काम तक ही सीमित थे और इंटरनेट का उपयोग करने में कम से कम रुचि लेती थी। वर्तमान समय में, कॉलेज के छात्रों और कामकाजी महिलाओं की तुलना में इंटरनेट सेवाओं का उपयोग करनी  वाली  गृहणियों की  संख्या  बढ़  रही  है |  

इंटरनेट और मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएएमएआई) द्वारा प्रकाशित नवीनतम रिपोर्ट के मुताबिक, असीमित इंटरनेट योजनाओं की सदस्यता लेने वाली महिलाओं की संख्या में तेजी से वृद्धि हुई है।

यहां उपयोगकर्ता प्रतिशत है:

  1. गृहिणी: 26 प्रतिशत
  2. कामकाजी महिलाएं: 20 प्रतिशत
  3. कॉलेज छात्र: 20 प्रतिशत
  4. स्कूल के छात्र 25 प्रतिशत

भारतीय गृहिणी स्पष्ट रूप से इंटरनेट पर अपनी ज़्यादा से ज़्यादा उपयोग कर रही हैं। लेकिन शब्द.इन के माध्यम से आप दुनिया को अपनी प्रतिभा के बारे में बता सकते है| भारत की इंटरनेट पर पहली हिंदी सोशल नेटवर्किंग एवम ब्लॉगिँग वेबसाइट है, शब्द.इन | शब्द.इन एक निःशुल्क सेवा प्लेटफार्म प्रदान करता है | यह वेबसइट जनवरी 2015 में  लांच की गयी  थी | यह उन प्रमुख स्टार्ट अप में से एक है जो इंटरनेट पर हिंदी के उत्थान पर काम कर रहे हैं। शब्द.इन फेसबुक, ट्विटर, क्वारा और ब्लॉगिंग द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं का एक संयोजन है लेकिन  शब्द.इन  पूरी  तरह  से  एक  हिंदी वेबसाइट  है | शब्द.इन का मोबाइल ऐप भी उपलब्ध है।

शब्द.इन  के  माध्यम से  आप  घर  पर बैठे –  बैठे  ही अपने  विचार  व्यक्त कर  सकते  है , समाचार पढ़  सकते  है  और  विभिन्न  लोगो  के  द्वारा  शब्द.इन में  लिखी  गयी  रचनाओं  को  पढ़  सकते  है |

अनुमानों के मुताबिक, भारत की आबादी का केवल 10 प्रतिशत हिस्सा ही अंग्रेजी बोल सकता है और शब्द.इन एक  हिंदी वेबसाइट  है तो  यह  एक  बहुत  अच्छा  प्लेटफार्म  है जहाँ  पर  आप अपनी  भाषा  में लिख  और  पढ़  सकते  है |  

शब्द.इन के माध्यम से आप घर पर बैठ  कर  पैसे भी कमा  सकते है | शब्द.इन पर प्रकाशित प्रतिदिन के उत्त्कृष्ट  लेखों को सम्मानित किया जाता  है |  लेखों पर आये लाइक्स और कमेंट के लिए भी समुचित धनराशि दी जाती है |  

इसके अलावा  दैनिक,साप्ताहिक एवं मासिक श्रेष्ठ रचना पर भी शब्द.इन की और से आकर्षक पुरस्कार दिए जाते है|  

शब्द.इन  पर  लिखने और  पढ़ने के  अलावा  आप दोस्त बना सकते हैं, चर्चा कर सकते हैं, चित्र, वीडियो और प्रश्न भी पोस्ट कर सकते हैं। इसमें एक पूर्वानुमानित टेक्स्ट टाइपिंग तंत्र है जिसके माध्यम से कोई हिंदी शब्द टाइप करने के लिए अंग्रेजी की-बोर्ड का उपयोग कर सकते  है।

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

work-at-home-data-entry-jobs
Career Advice
Want to do a data entry job from home? Here is what you need to know

The Internet provides many kinds of work from home job opportunities, especially for stay at home moms. One of the best jobs to start from home for women with no work experience or for women who are not highly qualified is data entry job. Working from home in a data …

work at home jobs on a smartphone
Career Advice
Smartphone and Jobs: Use your Smartphone to Work from Home and Earn

Digitalization and the Internet have changed the lives of many in today’s time. Maybe you don’t have access to a personal desktop or laptop at this time. Maybe you don’t have the funds to buy one. But, today, everyone has a smartphone. A smartphone has become an essential part of …

how to start a work from home job
Blog GharSeNaukri.com
5 Essential Tips on How to Start a Work-from-Home Job

Gender diversity at workplace is a common problem in India. According to an HR report published in 2018, only 20% to 30% of the overall workforce is occupied by women in India. With time and experience, when they are eligible to move into mid-management level or senior level, many of …